जब बाबरी मस्जिद को तोड़ा गया था तो उसके नीचे से यह सब मिले थे, राम मंदिर के सबूत है ये

जब बाबरी मस्जिद को तोड़ा गया था तो उसके नीचे से यह सब मिले थे, राम मंदिर के सबूत है ये

भारत का अब तक का सबसे लंबा अदालत में चलने वाला केस अब समाप्त होने को है और सुप्रीम कोर्ट ने इस पर अपना फैसला सुनाने की तैयारी कर रहा है लेकिन क्या आपको पता है कि हमेशा से ही हिन्दू पक्ष यह कहता आया था कि बाबर ने प्राचीन राम मंदिर तोड़कर उसके ऊपर एक मस्जिद बनवाई थी जिसे बाबरी मस्जिद के नाम से जाना गया, तो हिन्दू पक्ष की यह बातें सिर्फ हवा में नही थी बल्कि इसके कई सारे सबूत भी मिले थे जो शायद ही आपने कभी देखें होंगे ।

तो बता दे आपको कि जब बाबरी मस्जिद को ढाया गया था तो तब उसकी जांच की गयी थी और जांच में बाबरी मस्जिद के नीचे कुछ प्राचीन मुर्तिया मिली थी जोकि साफतौर पर एक हिन्दू संस्कृति का इशारा कर रही थी जब इन मूर्तियों को वहां से निकाला गया और इनपर रिसर्च की गई तो पता चला कि यह प्राचीन श्रीराम का मंदिर है जो कि बाबर ने अपने शाशन काल मे तोड़ दिया था और उसने इसी के ऊपर अपनी मस्जिद बना दी ।

इस बात को कई वर्षों तक हिन्दू पक्ष ने अदालत में उठाया और आज भी हिन्दू पक्ष का दावा इसी बात से सबसे मजबूत मन जाता है यही वजह है कि हिन्दू पक्ष इन सबूतों के चलते बड़े ही शान ओर निडर होकर इस विवादित जमीन पर अपना दावा करता है जोकि सही भी माना गया है लेकिन बात करें मुस्लिम पक्ष की तो मुस्लिम पक्ष इन प्राचीन मूर्तियों को देखने के बाद भी इन सब बातों को मानने से इंकार करता है और वह इसे महज एक इत्तफाक बताता है ।

COMMENTS