राहुल गांधी ने कहा: मैं और मेरा पूरा परिवार कश्मीरी पंडित, भाजपा-आरएसएस ने जम्मू-कश्मीर के भाइचारे को किया तहस-नहस

राहुल गांधी ने कहा: मैं और मेरा पूरा परिवार कश्मीरी पंडित, भाजपा-आरएसएस ने जम्मू-कश्मीर के भाइचारे को किया तहस-नहस

अभी हाल ही में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने जम्मू में पार्टी कार्यकर्ताओं से बात करते हुए कहा कि,’मैं और मेरा पूरा परिवार कश्मीरी पंडित है. भाजपा (BJP) ने आज तक कश्मीरी पंडितों के लिए कोई काम नहीं किया है.’ इसके साथ ही उन्होंने कहा कि,’मेरा वादा है कि मैं कश्मीरी पंडितों के लिए काम करूंगा.’ पता देखे अभी हाल ही में राहुल गांधी ने मां वैष्णो देवी का दर्शन किया था.

अपने साक्षात्कार के दौरान उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि मैं घर आ गया हूं. मेरे परिवार का जम्मू-कश्मीर से पुराना नाता है. उन्होंने आगे कहा कि,’मैं एक कश्मीरी पंडित (Kashmiri Pandit) हूं और मेरा परिवार कश्मीरी पंडित है. आज सुबह कश्मीरी पंडितों का एक प्रतिनिधिमंडल मुझसे मिला. उन्होंने मुझे बताया कि कांग्रेस ने उनके लिए कई कल्याणकारी योजनाएं लागू की, लेकिन बीजेपी ने कुछ नहीं किया.’

इस दौरान राहुल गांधी ने कहा कि,’मैं अपने कश्मीरी पंडित भाइयों से वादा करता हूं कि मैं उनके लिए कुछ करूंगा.’ उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर के बाद वह लद्दाख भी जायेंगे. राहुल ने कहा कि जम्मू-कश्मीर का मेरे दिल में एक विशेष स्थान है लेकिन मुझे भी दुख है. जम्मू-कश्मीर में भाईचारा है लेकिन बीजेपी और आरएसएस उस भाईचारे के बंधन को तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं.

राहुल गांधी इस दौरान अपना हाथ उठाकर भीड़ को अपनी हथेली दिखाने चले गये. हाथ दिखाते हुए उन्होंने कहा कि हाथ का अर्थ है दारो चटाई (डरो मत). आप भगवान शिव और वाहे गुरु की तस्वीरों में हाथ देख सकते हैं. बताते हैं कि इन्होंने ने कहा कि आपके विशेष राज्य का दर्जा आपसे छीन लिया गया है. जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा वापस मिलना चाहिए. कांग्रेस इसके लिए लड़ेगी.

गौरतलब है कि हाल ही में नरेंद्र मोदी सरकार ने जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा प्रदान करने वाले आर्टिकल 370 को हटा दिया और जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को दो केंद्रशासित प्रदेशों में बांट दिया. राहुल गांधी ने अब भाजपा पर हमला किया और कहा कि भाजपा ने जम्मू-कश्मीर को कमजोर किया है.

Sources : indiavirals.com

COMMENTS

Skip to toolbar